देहरादून के परेड ग्राउंड में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने किया ध्वजारोहण

पूरे देश की तरह उत्तराखंड में भी धूमधाम से आजादी का जश्न मनाया गया।राजधानी देहरादून के परेड मैदान में मुख्य समारोह का आयोजन किया गया।मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ध्वजारोहण कर प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी। सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों, सेना के शहीद जवानों और उत्तराखण्ड राज्य निर्माण के सभी शहीदों को श्रद्धांजलि दी।



इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड देवभूमि ही नहीं, वीरभूमि भी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखण्ड को सैन्यधाम की संज्ञा दी है। प्रदेश सरकार शहीद सैनिकों के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी में समायोजित कर रही है।मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रदेशवासियों के लिए कई घोषणाएं की। उत्तराखंड में साल 2019 को रोजगार वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। सीएम ने कहा कि रिक्त सरकारी पदों पर समयबद्ध तरीके से भर्ती की जाएगी।महिला उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री महिला उद्यमिता प्रोत्साहन योजना शुरू की जा रही है। प्रदेश में वृद्ध व्यक्तियों की देखभाल के लिए कानून लाने पर विचार किया जा रहा है। मुख्यमंत्री प्रतिभा प्रोत्साहन योजना के तहत टॉपर 25 बच्चों को सभी कोर्सेज में 50 प्रतिशत फीस की स्कॉलरशिप दी जाएगी।देश को जानो योजना के तहत कक्षा 10 के टॉप 25 रैंकर्स को भारत भ्रमण कराया जाएगा।ये सभी बच्चे उत्तराखण्ड बोर्ड के होंगे।एक भ्रमण इनका हवाई जहाज से भी होगा।इससे बच्चों को अपने देश के बारे में जानने को मिलेगा।भारत के विभिन्न प्रान्तों की संस्कृति, इतिहास, रहन-सहन, खान-पान आदि के बारे में जानने का मौका मिलेगा।अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति आश्रम पद्धति के विद्यार्थियों के भोजन भत्ते को 3000 रूपए प्रति माह से बढाकर 4500 रूपए प्रति माह किया जा रहा है। सीएम ने कहा कि राज्य में सर्विस सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए सरकार प्रायसरत है। शीघ्र ही वेलनेस योगा, आयुर्वेद और पर्यटन पर आधारित संयुक्त रूप से एक समिट का आयोजन किया जायेगा। प्रदेश के समस्त विद्यालयों में फर्नीचर, वाटर सप्लाई, टॉयलेट, कंप्यूटर, लाइब्रेरी और लैब की व्यवस्था को चरणबद्ध तरीके से 2022 तक पूर्ण किया जाएगा। 2020 तक प्रदेश की समस्त सहकारी समितियों को कंप्यूटरीकृत किया जाएगा। सीएम ने अपने भाषण के दौरान प्रदेश की विषम भौगोलिक परिस्थितियों और आपदा का भी जिक्र किया।पीएम मोदी द्वारा उत्तराखण्ड को सैन्यधाम बनाने के संकल्प को दोहराते हुए मुख्यमंत्री ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने का जिक्र किया।राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजना, उज्ज्वला योजना, चन्द्रयान के सफल प्रक्षेपण सहित कई मुद्दों पर बात करते हुए उत्तराखण्ड को बीसीसीआई की मान्यता पर सीएम ने बधाई दी। सीएम ने कहा कि सबका साथ सबका विकास सरकार का संकल्प है।  मुख्यमंत्री ने अपने भाषण के दौरान कई केंद्रीय योजनाओं और प्रदेश के विकास के लिए प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जाए जा रही योजनाओं का भी जिक्र किया।


देहरादून के परेड ग्राउंड में स्वतंत्रता दिवस का मुख्य कार्यक्रम बेहद आकर्षक रहा इसमें जहां पुलिसकर्मियों ने परेड कर लोगों का दिल मोहा तो सांस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिए प्रदेश की संस्कृति को भी प्रदर्शित किया गया।कार्यक्रम में से पहले मुख्यमंत्री स्वतंत्रता सेनानियों के परिजनों से मिले और उनका कुशलक्षेम पूछा जबकि परेड ग्राउंड में पुलिसकर्मियों होमगार्ड पीएसी एनसीसी ने परेड से सबका दिल मोह लिया और सांस्कृतिक कलाकारों ने प्रदेश की संस्कृति को झलकाती प्रस्तुतियां भी दी।


 
इस दौरान मुख्यमंत्री ने छात्रों, वृद्ध जनों, युवाओं महिलाओं और कृषि से जुड़ी कई घोषणाएं की।2019 को प्रदेश रोजगार वर्ष के रूप में मना रहा है...सभी रिक्त सरकारी पदों पर समयबद्ध तरीके से भर्ती की जाएगी।इसकी मॉनिटरिंग के लिए कैबिनेट मंत्री की अध्यक्षता में टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा।जो लोग पहले से संविदा में लगे हैं, उनके लिए अधिमान अंक की व्यवस्था की जाएगी।