Page Nav

HIDE

Gradient Skin

Gradient_Skin

Breaking News

latest

हरिद्वार में मासूम बच्चों से भीख मंगवाने का गोरखधंधा रुकने का नाम नहीं ले रहा यह ह्यूमन ट्रैफिकिंग का भी मामला हो सकता है--एसएसपी 

  - धर्मनगरी हरिद्वार में मासूम बच्चों से भीख मंगवाने का गोरखधंधा रुकने का नाम नहीं ले रहा है हरिद्वार के तमाम क्षेत्रों में मासूम बच्चों...


 


-धर्मनगरी हरिद्वार में मासूम बच्चों से भीख मंगवाने का गोरखधंधा रुकने का नाम नहीं ले रहा है हरिद्वार के तमाम क्षेत्रों में मासूम बच्चों से भीख मंगवाई जा रही है और इन बच्चों को दूसरे प्रदेशों से हरिद्वार लाया जा रहा है ऐसा खुलासा हुआ है लक्सर कोतवाली क्षेत्र में फक्कड़ बाबा के पकड़े जाने से यह बाबा चंडीगढ के रहने वाले 4 बच्चों को हिमाचल प्रदेश से नौकरी दिलवाने के नाम पर हरिद्वार लाया था और यहां लाकर इन मासूम बच्चों से भीख मंगवा रहा था स्थानीय लोगों को जब इस बाबा पर शक हुआ तो उन्होंने इस बाबा से पूछताछ की तब यह सनसनीखेज मामला सामने आया स्थानीय लोगों द्वारा इस बाबा को पकड़कर पुलिस को सूचना दी गई अब पुलिस ने इस बाबा को गिरफ्तार कर बच्चों को अपनी कस्टडी में ले लिया है इस मामले की सूचना बच्चो के परिजनों और चंडीगढ़ पुलिस को दे दी गई है

 

-लक्सर कोतवाली क्षेत्र में कल फक्कड़ बाबा के पास से 4 बच्चे बरामद हुए थे जिनसे बाबा भीख मंगवाने का कार्य करवाता था लोगों की सूचना के बाद लक्सर पुलिस ने इस बाबा को गिरफ्तार कर उसके चंगुल से चारों बच्चों को अपनी कस्टडी में ले लिया एसएससी सेंथिल अबुदाई का कहना है कि लक्सर कोतवाली क्षेत्र के बहादरपुर फाटक के पास लोगों द्वारा सूचना दी गई थी कि एक बाबा बच्चों से भीख मंगवाने का कार्य कर रहा है सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने बाबा को गिरफ्तार कर बच्चों को अपनी कस्टडी में ले लिया है एसएसपी के अनुसार चारो बच्चे चंडीगढ़ के रहने वाले हैं बाबा इन बच्चो को हिमाचल जिले के उना से नौकरी देने का लालच देकर हरिद्वार लाया था मगर यहां लाकर इनसे भीख मंगवाने का कार्य कर रहा था सभी बच्चे 11 से 13 साल की उम्र के है चंडीगढ़ पुलिस को इसकी सूचना दे दी गई है बच्चो को फिलहाल चाइल्ड हेल्पलाइन भेजा गया है चंडीगढ़ पुलिस के आने पर चारो बच्चे को उनके सुपुर्द किया जाएगा

 

 

 हरिद्वार में जिस तरह से बच्चों से भीख मंगवाने की घटनाएं सामने आ रही है पुलिस अब इस मामले में ह्यूमन ट्रैफिकिंग के एंगल से जांच कर रही है एसएसपी सेंथिल अबुदाई का कहना है कि यह ह्यूमन ट्रैफिकिंग का भी मामला हो सकता है हमारे द्वारा इस एंगल पर भी जांच की जा रही है हमारे द्वारा हरिद्वार क्षेत्र में सत्यापन की कार्रवाई की जा रही है यहां पर बाहर से आने वाले लोगों का आना जाना रहता है हम वहां पर नजर भी बनाए हुए हैं आरोपी बाबा महाराष्ट्र का रहने वाला है और दो दिन पहले आरोपी द्वारा चारो बच्चो को हिमाचल से यहां लाया गया है

 

 

 

-हरिद्वार में बच्चो से भीख मंगवाए जाने का यह कोई पहला मामला नही है इससे पूर्व भी बच्चो से भीख मंगवाने के कई ऐसे मामले सामने आते रहे है और हर बार पुलिस अधिकारियों द्वारा अपने अधीनस्थों को दिशा निर्देश देकर ऐसे मामलों में खानापूर्ति कर दी जाती है इस मामले में बच्चे चंडीगढ़ से हिमाचल कैसे पहुचे यह भी बड़ा सवाल है अब देखना वाली बात यह होगी की बच्चे परिजनों को कब तक सुपुर्द कर दिए जाते है और पुलिस द्वारा ऐसी घटनाओ की रोकथाम के लिए जमीनी स्तर पर क्या कार्य किए जाते है