एक सप्ताह के अंदर नही हुई दून हॉस्पिटल की व्यवस्थाएं दुरुस्त तो बैठेंगे धरने पर ........सूर्यकांत धस्माना

उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने राज्य के मुख्य मंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मांग की है कि वे एक सप्ताह के भीतर दून हॉस्पिटल में खराब पड़ी सीटी स्कैन मशीन समेत अन्य अव्यवस्ताओं को दुरुस्त करें वरना मजबूर हो कर उन्हें मुख्यमंत्री आवास या मुख्यमंत्री कार्यालय पर अनशन करना पड़ेगा। आज कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस से रूबरू श्री धस्माना ने कहा कि राज्य की राजधानी देहरादून के सबसे बड़े सरकारी हॉस्पिटल दून जो कि अब मैडीकल कालेज भी है में पिछले छह महीने से सीटी स्कैन मशीन खराब पड़ी है और एमआरआई मशीन की हालत भी खराब पड़ी है जिसके कारण आये दिन वो बन्द हो जाती है , दून हॉस्पिटल प्रशासन ने सीटी स्कैन मशीन खरीदने के लिए व एमआरआई मशीन के ठीक करने के लिए स्वास्थ्य विभाग व राज्य सरकार को लंबे समय से ग्यारह करोड़ रुपये के प्रस्ताव भेजे हुए हैं लेकिन वे ठंडे बस्ते में पड़े हैं और मशीनें काम नही कर रही जिसके कारण मरीज परेशान हो कर बाहर से सीटी स्कैन व एमआरआई करवाने के लिए मजबूर होते हैं। श्री धस्माना ने कहा कि हॉस्पिटल में मानकों व आवस्यकता के अनुसार जितना नर्सिंग स्टाफ व वार्ड बॉय तथा तकनीकी स्टाफ की जरूरत है उसके आधे लोग भी उपलब्ध नहीं है जिसके कारण हॉस्पिटल में भर्ती होने वाले मरीजों के उपकचार में बहुत लापरवाही होती है। श्री धस्माना ने कहा कि श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत राज्य के मुख्यमंत्री स्वास्थ्य मंत्री होने के साथ साथ देहरादून के डोईवाला के विधायक भी हैं किंतु दून हॉस्पिटल के खस्ता हालत देख कर कोई भी व्यक्ति पूरे राज्य के स्वाथ्य विभाग के हाल जान सकता है और एक विधायक होने के नाते मुख्यमंत्री जी की अपने क्षेत्र और राज्य की जनता के स्वास्थ्य के प्रति उदासीनता को भी भांप सकता है। श्री धस्माना ने कहा कि देहरादून ही नहीं बल्कि उत्तरकाशी टिहरी जौनसार भाबर व पड़ोस के जनपदों के लोग दून हॉस्पिटल इलाज करवाने आते हैं किंतु राज्य की राजधानी का सबसे बड़ा सरकारी हस्पताल जिस दुर्दशा से गुजर रहा है उसके लिए अब हमको संघर्ष करना ही पड़ेगा और इसलिए हम कांग्रेस पार्टी की ओर से व पूरे देहरादून व गढ़वाल की जनता की तरफ से मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मांग कर रहे हैं कि वे एक सप्ताह के भीतर दून हॉस्पिटल की सीटी स्कैन मशीन चालू करवाएं व अन्य अव्यवस्ताओं को दुरुस्त करें । श्री धस्माना ने कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो वे मुख्यमंत्री के सरकारी आवास या उनके सचिवालय स्थित दफ्तर के बाहर उपवास पर बैठेंगे।