देखे मलिन बस्तियों पर कांग्रेस के पूर्व विधायक राजकुमार का बयान 

उत्तराखंड राजधानी में बसी 132 मलिन बस्तियों को लेकर आज कांग्रेस के पूर्व विधायक राजकुमार ने निगम को घेरते हुए आरोप लगाया कि हमारे समय में हम लोगों ने मलिन बस्तियों को मालिकाना हक दिलाने के लिए आंदोलन किया था साथ ही हम लोगों ने उनको मलिकाना हक भी दिलाना शुरू कर दिया था जिसमें लगभग 7 व्यक्तियों को मालिकाना हक के कागज भी सौंपने की तैयारियां पूरी हो चुकी थी परंतु सरकार बदलने के कारण भाजपा की सरकार ने तुरंत उन आदेशों को रोकते हुए न्यायालय से उन बस्तियों को तोड़ने के आदेश तक दे डाले  जिस पर कांग्रेस द्वारा आंदोलन करने पर सरकार ने 3 साल का समय बस्तियो को तोड़ने के लिए दिया था साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि आज जिस प्रकार मलिन बस्तियों को मालिकाना हक नहीं दिया जा रहा है और साथ ही उन पर टैक्स भरने के साथ-साथ बढ़ोतरी भी की जा रही है इससे साफ पता चलता है कि भाजपा गरीबों के प्रति कितने सजग है साथ ही उन्होंने बताया कि अब कांग्रेस पार्टी मलिन बस्तियों के मालिकाना हक को लेकर भी सड़कों पर उतरने की तैयारियां कर रही है