दून में सुरक्षा व्यवस्था हेतु पहली बार प्रयोग में लाये गये ड्रोन कैमरे

 कांग्रेस पार्टी द्वारा सीएए/महंगाई के विरोध में कांग्रेस भवन राजपुर रोड से एक रैली-जुलूस आयोजित किया था। जो कि घण्टाघर होते हुये पलटन बाजार, राजा   रोड, इमामुल्ला बिल्डिंग और परेड ग्राउण्ड होते हुये कांग्रेस भवन पर जाकर खतम हुआ। इस जुलूस में करीब 3000 से 3500 व्यक्ति शामिल थे। वर्तमान परिदृश्य को देखते हुये वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा जुलूस मार्ग पर पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की गयी थी। सम्पूर्ण जुलूस मार्ग के साथ-साथ शहर क्षेत्र को जोन व सेक्टरों में बांटा गया था। जोन लेवल पर क्षेत्राधिकारी स्तर के तथा सेक्टर लेवल पर निरीक्षक/थानाध्यक्ष स्तर के अधिकारियों को लगाया गया था। सम्पूर्ण कार्यक्रम को सकुशल सम्पन्न कराने के लिये क्षेत्राधिकारी 06, निरीक्षक/थानाध्यक्ष-12, वरिष्ठ उपनिरीक्षक/उपनिरीक्षक-50, आरक्षी-150 तथा 05 कम्पनी पीएसी को नियुक्त किया गया था। इस प्रकार शहर में शांति व्यवस्था बनाये रखने हेतु बहुत भारी पुलिस फोर्स नियुक्त किया गया था। सम्पूर्ण जुलूस के आगे पीछे पुलिस फोर्स को नियुक्त किया गया था।



  इसके अलावा इस बार पहली बार वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा सम्पूर्ण जुलूस कार्यक्रम और नगर की सुरक्षा व्यवस्था पर पैनी नजर रखने हेतु 02 ड्रोन केैमरों का प्रयोग किया गया, जिससे किसी भी प्रकार से कोई अवांछनीय गतिविधि तुरन्त ही नजर आ जाये और उस पर तत्काल कार्यवाही की जाये । इतने कड़े सुरक्षा प्रबन्धों के चलते सम्पूर्ण कार्यक्रम के दौरान कहीं पर भी कोई जाम देखने को नहीं मिला। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा बताया गया कि 29.12.19 को भी एक रैली का आयोजन होना प्रस्तावित है, जिसे लेकर जनपद में व्यापक सुरक्षा प्रबन्ध किये जा रहे हैें। एसएसपी देहरादून द्वारा उक्त जुलूस  से पूर्व स्वयं भ्रमण कर संपूर्ण सुरक्षा व्यवस्था का  जायजा लिया गया ।इसके अलावा कल होने वाली रैली में किए जाने वाले आवश्यक सुरक्षा प्रबंध, यातायात रूट निर्धारित करने के लिए मुख्य-मुख्य चौराहों पर स्वयं जाकर अधीनस्थों को निर्देश दिए गए।