एसएसपी ने की अपराध गोष्टी, बिना कारण विवेचना लम्बित रखने पर नपेंगे थानेदार


 कार्यालय देहरादून में श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून महोदय द्वारा जनपद के समस्त पुलिस अधीक्षक/क्षेत्राधिकारी/थानाध्यक्षों की मासिक अपराध गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें समस्त थानाध्यक्षों को अपने-अपने थानाक्षेत्रों में सी0ए0ए0 को लेकर शान्ति व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश दिये गये। साथ ही यह भी इंगित किया कि अपने-अपने क्षेत्र में ऐसे व्यक्तियों को चिन्हित कर लें जो बाहर से आकर रह रहे हैं व सी0ए0ए0 को लेकर विरोध सभाए आयोजित कर उपद्रव करने की योजना बना रहे हैं, ऐसे लोगो के विरूद्ध तत्काल निरोधात्मक कार्यवाही करें। स्थानीय अभिसूचना इकाई को इस सम्बन्ध में विशेष निगरानी रखने एवं सतर्कता बरतने की हिदायत दी गयी।
इसके पश्चात वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा सभी थानों में लम्बित विवेचनाओं की समीक्षा की गयी। सभी थानों के थानाध्यक्षों को चेतावनी देते हुए निर्देशित किया गया कि यदि थाना स्तर पर किसी भी विवेचक द्वारा कोई विवेचना बिना किसी कारण के अनावश्यक लम्बित रखी गयी तो सम्बन्धित विवेचक के साथ-साथ थानाध्यक्ष पर भी कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी, साथ ही यह भी निर्देशित किया गया कि बिना किसी कारण के विवेचना लम्बित रहती है तो इसमें कहीं न कहीं सम्बन्धित क्षेत्राधिकारी भी शिथिलता परिलक्षित होगी, इसलिये सम्बन्धित क्षेत्राधिकारी को भी हिदायत दी गयी कि यदि किसी भी मामले में उनके द्वारा विवेचना के पर्यवेक्षण में शिथिलता बरती गयी तो वे भी अपने विरूद्ध कार्यवाही के लिये तैयार रहें। सम्बन्धित थाना क्षेत्र की एक-एक विवेचना की जानकारी सम्बन्धित क्षेत्राधिकारी को होनी चाहिए कि किस कारण से लंबित है। 
सभी थानाध्यक्षों को निर्देशित किया गया कि वांछित अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं हो पा रही है तथा ऐसे वांछित अपराधी जो लगातार फरार चल रहे हैं उन पर भी ईनाम की संस्तुति हेतु पत्रावली तैयार करें, तथा जिन पर पूर्व से ही ईनाम घोषित हो उन पर ईनाम की धनराशि बढाने के लिये पत्रावली प्रेषित करें। सभी थानाध्यक्षांे को अपना कार्य प्रोफेशनल तरीके से करने के निर्देश दिये गये। इसके अतिरिक्त नववर्ष की पूर्व संध्या पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में किस प्रकार से अपने अपने क्षेत्र में यातायात व्यवस्था बनाये रखेंगे इसका होमवर्क करके प्लान तैयार करने के लिए सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए गए। 
मासिक अपराध गोष्ठी के दौरान जनपद के समस्त पुलिस अधीक्षक/क्षेत्राधिकारी तथा थानाध्यक्ष मौजूद रहे।