मसूरी विंटर लाइन कार्निवल का भव्य तरीके से समापन


विश्व में पहाड़ों की रानी के रूप में विख्यात उत्तराखंड के देहरादून जनपद अंतर्गत स्थित मसूरी में आयोजित मसूरी विंटर लाइन कार्निवाल का रंगारंग कार्यक्रमों के मध्य समापन हो गया।
सोमवार शाम मसूरी के गांधी चौक पर समापन समारोह को सम्बोधित करते हुये मुख्य अतिथि राज्य विधानसभा अध्यक्ष  प्रेमचन्द अग्रवाल ने कहा  कि  विंटर लाइन  दृश्य का दीदार या तो मसूरी में  या फिर स्वीटरलैंड में होता है। उन्होंने कहा कि ये खुशी की बात है मसूरी उत्तराखंड में है और पहाड़ों की रानी के रूप में विख्यात है। उन्होंने हाल में सम्पन्न विधायी निकायों के पीठासीन अधिकारियों के सम्मेलन में आये विभिन्न अधिकारियों द्वारा हरिद्वार, ऋषिकेश के साथ मसूरी भृमण की इच्छा व्यक्त करने को मसूरी के लिये लाभकारी बताया।
क्षेत्रीय विधायक गणेश जोशी ने कहा कि जैसे घर में शादी होती है उस तरह  से सारी तैयारियां जिला अधिकारी C रविशंकर और आयोजन समिति के सदस्यों ने की। उन्होंने प्रचार, प्रसार के लिये मीडिया के साथ मसूरी में स्वच्छता अभियान में लगे लोगों के साथ आम जनता का आभार व्यक्त किया। 
उन्होंने कहा कि मसूरी कार्निवाल की शुरुआत 2013 में हुई। पहले यहां सिर्फ 2 दिन लोग रुकते थे, अब आयोजन के कारण 4-5 दिन रुकते हैं। इससे यहां के होटल व्यवसाय की और स्थानीय आर्थिकी को सुदृढ़ता प्रदान होने में मदद मिली है।
पालिका अध्यक्ष अनुज गुप्ता ने कहा कि देश, विदेश के पर्यटकों को स्थानीय कला, संस्कृति से परिचित कराया गया। उन्होंने अगली बार और बेहतर तरीके से कराने का वादा किया।
जिला अधिकारी और आयोजन समिति अध्यक्ष सी रविशंकर ने सभी का आभार व्यक्त किया। 
इस अवसर पर अतिथियों को स्मृति चिह्न प्रदान किये गए। इस दौरान कार्यक्रम में एडीएम बी एस बुदियाल, एसडीएम मसूरी वरुण चौधरी सहित कार्निवाल समिति के सदस्य तथा बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।