त्रिवेंद्र की सरकार राज्य की जनभावना के साथ खिलवाड़ कर रही है--------- उत्तराखंड क्रान्ति दल

उत्तराखंड में भाजपानीत त्रिवेंद्र की सरकार राज्य की जनभावना के साथ खिलवाड़ कर रही है। उत्तराखंड क्रान्ति दल महानगर देहरादून की बैठक महानगर अध्यक्ष सुनील ध्यानी की अध्यक्षता में हुई जिसमें स्पष्ट रूप से चर्चा हुई कि त्रिवेंद्र की सरकार राज्य की जनभावनाओं को कुचल रही है जिसका उदाहरण पहाड़ के गांधी स्व० इंद्रमणि बड़ोनी जी की जयंती 24 दिसम्बर 2019 जिसे सरकार लोक संस्कृति दिवस के रूप में मनाती है जो देहरादून के घंटाघर बड़ोनी जी की मूर्ति पर लिया जाता है लेकिन राज्य का मुखिया श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत बड़ोनी जी को एक पुष्प श्रधांजलि स्वरूप देने नही आये ।पहाड़ के गांधी का इससे बड़ा अपमान क्या हो सकता है। बैठक में इस बात पर भी चर्चा हुई कि सब०बड़ोनी जी के नामपर अजबपुर में जो पार्क अपनी दुर्दशा बयां कर रही है जिसके लिए यूकेडी महानगर ने मेयर सुनील उनियाल गामा को दिनाँक 23 दिसम्बर 2019 को ज्ञापन सौंपा जिसमे पार्क के निर्माण व रकरखाव से संबंधित था।आज अभी इसी वक्त वहां पर कई ट्रक गाड़िया पार्क में खड़ी है।नगर निगम इसकी निरीक्षण तक नही करा पाया।यूकेडी ने एक माह का निश्चित समय अल्टीमेटम सरकार व नगर निगम को दिया है। बैठक में चर्चा का बिंदु यह भी रहा कि जनता के रोज मर्रा के कार्य तहसील और खाद्य विभाग में रहता है।तहसील में सत्यापन, जांच,व विधवा,विकलांग,वृद्ध आदि के लिए इनसे जुड़े व्यक्ति राजीव भवन में एम डी डी ए काम्प्लेक्स की तीसरी मंजिल स्तिथ जाना पड़ता है।उससे ज्यादा ऊपर जिला पूर्ति कार्यालय   स्तिथ है।जिसमें बैठक में तय किया गया कि अगले सप्ताह महानगर ईकाई अन्यंत्र  तहसील और जिला पूर्ति कार्यालय स्थान्तरित करने हेतु कार्यक्रम देगा। बैठक में श्री लक्ष्मी कांत भट्ट,धीरज शर्मा,अशोक नेगी,ऐनी थापा,अनिल डोभाल आदि थे।