विधानसभा में सत्र से पहले ली गयी सर्वदलीय बैठक 
देहरादून में कल से शुरू होने वाले विधानसभा शीतकालीन सत्र को लेकर विधानसभा में सर्वदलीय बैठक की गई जिसमें विदाई एवं संसदीय कार्य मंत्री मदन कौशिक विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल और नेता प्रतिपक्ष इंद्रा ह्रदयेश ने  हिस्सा लिया। सर्वदलीय बैठक में विधानसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही में शांतिपूर्ण तरीके से चलाने के लिए नेता प्रतिपक्ष से आह्वान किया गया।

 

 विधानसभा क्षेत्र के चलते विधायक एवं संसदीय कार्य मंत्री मदन कौशिक ने बताया कि सरकार की तैयारिया पूरी करली गयी हैऔर सदन में 10 विधेयक लाने जा रही है जिसमें 7 पूर्व के विधेयक हैं और 3 में विधेयक है कुल मिलाकर 10 विधेयक सदन में रखे जाएंगे और सरकार की ओर से अपनी तैयारी के साथ ही विपक्ष से भी अनुरोध किया गया है ताकि सदन शांतिपूर्ण चले और जनहित के तमाम मुद्दे सदन में उठे।

 

वहीं विधानसभा क्षेत्र में विपक्ष भी सरकार को घेरने की पूरी जी तोड़ कोशिश में है जहां विपक्ष के पास श्राईन बोर्ड,गैरसैण का मुद्दा, रोजगार और परिवहन की लचर हालत से पर्दा उठाने के लिए मुद्दे हैं। इन मुद्दों के सहारे विपक्ष सरकार को सदन में घेरती नजर आएगी। विपक्ष ने कहा है कि सरकार परिवहन विभाग को लचर बनाए हुए हैं। 

 

 

 

वहीं विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल ने बताया कि सर्वदलीय बैठक के बाद कार्य मंत्रणा की जिसमे निर्णय लिया गया कि 4 दिसंबर से 10 दिसंबर तक चलने वाले इस विधानसभा सत्र में 4 अध्यादेश कल सदन के पटल पर रखे जाएंगे। जिनमें 

उत्तराखंड मंत्री (वेतन भत्ता और प्रकीर्ण उपबन्ध ) संशोधन विधेयक 2019 

 

उत्तराखंड (उत्तर प्रदेश जमीदारी विनाश एवं भूमि व्यवस्था अधिनियम 1950) संशोधन विधेयक त्तराखंड/उत्तर प्रदेश लोक सेवा शारीरिक रूप से विकलांग स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के आश्रितों और पूर्व सैनिकों के लिए आरक्षण) अधिनियम 1993 संशोधन विधेयक उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद संशोधन विधेयक 2019 प्रमुख हैं। पत्रकारों से बात करते हुए  विधानसभा अध्यक्ष ने बताया कि और जो भी विधायक सदन पर रखे जाएंगे उन पर भी चर्चा की जाएगी साथ ही यदि जरूरत पड़ी तो सदन को 10 दिसंबर से आगे भी चलाया जाएगा।