चोरी की गयी धनराशि के साथ दो अभियुक्त गिरफ्तार
अनिल कुमार चड्ढा निवासी होटल डूंगा हाउस, 13 न्यू सर्वे रोड, देहरादून द्वारा थाना डालनवाला पर लिखित तहरीर दी कि मेरे डूंगा हाउस वेडिंग प्वाइंट में काम करने वाले एक युवक मोनू पुत्र सरदार सिंह निवासी चंद्रपुरा, थाना किरतपुर, जनपद बिजनौर के द्वारा अपने दोस्त साकिर  के साथ मिलकर मेरे डूंगा हाउस स्थित कार्यालय से  लगभग ₹25000/- चोरी कर लिए है।  उक्त संबंध में थाना डालनवाला पर मुकदमा अपराध संख्या 04/20 धारा 381 भादवी पंजीकृत कर विवेचना उप निरीक्षक प्रमोद कुमार के सुपुर्द की गई। चोरी की घटना के सफल अनावरण तथा अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु उच्चाधिकारीयो के आदेश पर उप निरीक्षक प्रमोद कुमार के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया।  गठित टीम द्वारा  सुरागरसी/पतारसी करते हुए दिनाँक 10/01/20 की रात्रि मुखबिर की सूचना पर घटना में सम्मिलित दोनों अभियुक्त को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से चोरी की गई धनराशि बरामद की गई।  पूछताछ  में अभियुक्त सोनू द्वारा बताया गया कि वह नवंबर माह में डूंगा हाउस में कार्य करता था तथा अभियुक्त साकिर पुत्र जमीर परेड ग्राउंड में मोहम्मद वकील के झूले पर काम करता था, दोनों अभियुक्त पड़ोसी थे तथा बचपन के दोस्त हैं।  26 नवंबर को काम छोड़ने के बाद सोनू अपने गांव गया, जहां उसकी मुलाकात साकिर से हुई। वही पर दोनों ने डूंगा हाउस में चोरी करने की योजना बनाई तथा  पूर्व में भी डूंगा हाउस के आफिस में चोरी की घटना को अंजाम दिया गया।  उक्त घटना के संबंध में डूंगा हाउस के मालिक द्वारा स्वयं जानकारी करने का प्रयास किया गया परंतु परिवार के किसी सदस्य के घटना में शामिल होने की संभावना के डर से पुलिस को सूचना नहीं दी गई,  तत्पश्चात उनके द्वारा अपने कार्यालय में सीसीटीवी कैमरे लगवाए गए।  पूर्व में की गई घटना में अभियुक्त गणों के विरुद्ध कोई कार्रवाई न होने पर अभियुक्त गणों द्वारा पुनः डूंगा हाउस में चोरी की योजना बनाई तथा दिनांक 03/01/20 को दोनों अभियुक्त गण अपने गांव से देहरादून आए तथा फिर करीब रात्रि 2:30 से 3:00 के बीच डूंगा हाउस के ऑफिस में जाकर वॉशरूम के रास्ते दीवार फांदकर  ऑफिस के पीछे लगी जाली को काटकर अंदर घुस गए। वहाँ पर सीसीटीवी कैमरे पर कपड़ा रखकर उनके द्वारा ऑफिस में रखी अलमारी से ₹25000/- चोरी कर लिए। थाना डालनवाला  पुलिस द्वारा सूचना मिलने के पश्चात मात्र 24 घंटे के भीतर चोरी की घटना का सफल अनावरण किया गया।