निर्भया को मिला इन्साफ,निर्भया को मिले इस इन्साफ के बाद खासतौर पर महिलाओं में ख़ुशी


 




 

साल 2012 में दिल्ली में हुई दिल दहला देने वाली वारदात के लंबे इंतजार के बाद निर्भया रेप केस में आखिरकार पटियाला हाउस कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया है।निर्भया के चारों दोषियों को 22 जनवरी की सुबह 7 बजे फांसी दी जाएगी। कोर्ट ने चारों दोषियों का डेथ वॉरंट जारी कर दिया है।  

 

सफदरगंज अस्पताल की इमरजेंसी में निर्भया का सबसे पहले इलाज करने वाले डॉ विपुल कंडवाल ने बताया कि उन्होंने अपने जीवन में ऐसा कोई केस नहीं देखा था। निर्भया के साथ इतनी दरिंदगी करने वालों को अब फांसी का ऐलान हो गया है इससे उन्हें सकून मिला है। इससे ऐसा लग रहा है जैसे उन पर जो बोझ था वह हल्का हो गया है। डॉ कंडवाल ने बताया कि उन्होंने गैंगरेप के कई मामले देखे,लेकिन निर्भया की हालत देखकर वे अंदर तक हिल गए थे। लाख कोशिश के बाद भी निर्भया की हालत में सुधर नहीं हो रहा था। 

 

 

 

वीओ --निर्भया को मिले इस इन्साफ के बाद खासतौर पर महिलाओं में ख़ुशी है। महिलाओं का कहना है की वो कोर्ट के इस फैसले का सम्मान करते हैं साथ ही इस तरह के जघन्य अपराधों पर जल्द से जल्द सज़ा होने का प्रावधान होना चाहिए।