यु के डी ने सोपा ज्ञापन


           देहरादून की सदर तहसील, व जिला पूर्ति कार्यालय राजीव गांधी काम्प्लेक्स डिस्पेंसरी रोड़ देहरादून में तीसरी व चौथी मंजिल में संचालित चल रहे है।इन दोनों विभागों से आमजनता की रोजमर्रा के कार्य होते है।दोनों विभाग तीसरी व चौथी मंजिल में होने के कारण बुजुर्ग, असहाय व विकलांग व्यक्तियों के लिए चढ़ना बहुत मुश्किल हो जाता है,यही नही दोनों विभागों के कर्मचारियों ने भी प्रशासन से आम जन के हितों को ध्यान रखते हुए मांग करते आ रहे है कि पुरानी भवनों जो पूर्व से है विभागों को स्थान्तरित किया जाय।लेकिन आमजनता और मजबूर लोगो की इस विकट समस्या पर ध्यान नही दिया जा रहा है,हमारा स्पष्ट मानना है कि यह जनता के ऊपर शोषण है।विशेषकर बुजुर्ग,असहाय एवम विकलांग जिनके लिए सदर तहसील व जिला पूर्ति कार्यालय कार्यालय तीसरी व चौथी मंजिल चढ़ना एवरेस्ट की चढ़ाई लगती है।कॉम्लेक्स में लिफ्ट की व्यवस्था है लेकिन जरूरी नही कि आम आदमी उससे जा सके।इसलिए उत्तराखंड क्रान्ति दल एक माह का समय देते हुए एक सूत्रीय मांग करता है कि *सदर तहसील व जिला पूर्ति कार्यालय को अभिलंब  उनके पुराने भवनों में स्थान्तरित किया जाय* अन्यथा दल जनहित के लिए आंदोलन करने को बाध्य होगा।धरना महानगर अध्यक्ष सुनील ध्यानी के नेतृत्व में दिया गया।ज्ञापन अपर तहसीलदार को सौंपा गया।धरने में लताफत हुसैन,ए पी जुयाल,इमरान अहमद,शांति प्रसाद भट्ट,विजय बौड़ाई,जय प्रकाश उपाध्यायआशीष नौटियाल,राजेन्द्र बिष्ट,धर्मेंद्र कठैत,प्रमिला रावत,जितेंद डंगवाल,कमल कांत कुखशाल,सूफी खलीक अहमद,गुलजार,त्रिहान्स रौतेलाआदि थे।