जिला आपदा परिचालन केन्द्र का औचक निरीक्षण करने पंहुचे जिलाधिकारी

 जनपद में संचालित जिला आपदा परिचालन केन्द्र का औचक निरीक्षण करने पंहुचे जिलाधिकारी आशीष कुमार श्रीवास्तव ने जनपद के दुरस्थ चकराता-त्यूनी आदि क्षेत्रों में होने वाली आपदाओं से निपटने के लिए क्षेत्र के ग्राम प्रधानों एवं गांव तथा तोको में निवास करने वाले लोगों के दूरभाष न0 संकलित करने के साथ ही उन लोगों को आवश्यक उपकरण मुहैय्या कराने के निर्देश जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी को दिये। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत् संचालित कमाण्ड कन्ट्रोल सेन्टर को जनपद आपदा कन्ट्रोलरूम से जोड़ दिया जाय ताकि जनपद में कोई आपदा की स्थिति हो तो मैसेज प्राप्त हो सके। तद्नुसार आपदा की स्थिति में राहत एवं बचाव कार्यों को भी तेजी से चलाया जा सके। जिलाधिकारी ने विकासखण्ड चकराता के सुदुरवर्ती क्षेत्र ऐठान-भुनाड के ग्राम प्रधान केशर दास से बर्फबारी में हुई घटनाओं के सम्बन्ध में जानकारी एवं जिला प्रशासन द्वारा चलाये गये राहत बचाव कार्यों की स्थिति जानी, जिस ग्राम प्रधान ने जिला  प्रशासन द्वारा बर्फबारी के दौरान व्यवस्थाएं सुचारू करने हेतु किये गये कार्यों पर संतुष्टि व्यक्त की।  जिलाधिकारी ने आपदा परिचालन केन्द्र में मौजूद उपकरण एवं कर्मचारियों के बारें में भी जानकारी प्राप्त की। जिलाधिकारी ने आपदा प्रबन्धन अधिकारी डाॅ दीपशिखा रावत से जनपद के आईआरएस सिस्टम के सम्बन्ध में भी जानकारी प्राप्त की। 
जिलाधिकारी कल 3 फरवरी 2020 को कलेक्टेªट सभागार में प्रातः 11 बजे से जनता मिलन कार्यक्रम में आम जनमानस की समस्याएं सुनेंगे तथा समस्याओं का मौके पर ही समाधान करने हेतु उन्होंने सम्बन्धित विभागों अधिकारियों को भी उपस्थित रहने के निर्देश दिये। 
आपदा परिचालन केन्द्र के निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व बीर सिंह बुदियाल, स्मार्ट सिटी के कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर से राम उनियाल, वैयक्तिक अधिकारी वीरेन्द्र सिंह समेत आपदा परिचालन केन्द्र के कर्मचारी उपस्थित रहे।