Page Nav

HIDE

Gradient Skin

Gradient_Skin

Breaking News

latest

किराएदार को मकान मालिक बनाने के विवाद में एक कर्मचारी गिरफ्तारी और एक अन्य को पूछताछ के लिए हिरासत में लिए जाने के विरोध में नगर निगम कर्मचारी गए हड़ताल पर

कर्मचारियों का कहना है कि बिना वजह कर्मचारियों को पूछताछ के नाम पर परेशान किया जा रहा है। निगम अधिकारियों को जानकारी दिए बिना ही पुलिस कार...


कर्मचारियों का कहना है कि बिना वजह कर्मचारियों को पूछताछ के नाम पर परेशान किया जा रहा है। निगम अधिकारियों को जानकारी दिए बिना ही पुलिस कार्रवाई कर रही है।कानूनगोयान मोहल्ला रुड़की किराएदार को मकान मालिक बनाने के विवाद में एक कर्मचारी गिरफ्तारी और एक अन्य को पूछताछ के लिए हिरासत में लिए जाने के विरोध में नगर निगम कर्मचारी हड़ताल पर चले गए। कर्मचारियों का कहना है कि बिना वजह कर्मचारियों को पूछताछ के नाम पर परेशान किया जा रहा है। निगम अधिकारियों को जानकारी दिए बिना ही पुलिस कार्रवाई कर रही है।निवासी पंकज सिंघल की पैतृक संपत्ति को उनके किराएदार ने के नाम नगर निगम के कागजों दर्ज कर दिया गया था। इस मामले में एसआईटी जांच के बाद एक कर्मचारी की सनलिप्तता सामने आई थी। पुलिस ने आरोपी कमर्चारी शिवकुमार व किरायेदार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीँ अन्य कर्मचारियों से इस मामले में पूछताछ जारी है। अब पुलिस की जांच मामला नगर निगम में स्वास्थ्य अनुभाग तक भी पहुंच गयी है। स्वास्थ्य अनुभाग पर पंकज सिंघल की दादी का फर्जी प्रमाण पत्र मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने का आरोप है। इस मामले में एक कर्मचारी को पूछताछ के लिए पुलिस ने हिरासत में लिया था इसके विरोध में कर्मचारी हड़ताल पर चले गए। कर्मचारियों ने तालाबंदी की उसके बाद पूर्व मेयर यशपाल राणा के नेतृत्व में कर्मचारी सिविल लाइंस कोतवाली पहुंचे उनका कहना था कि पुलिस कर्मचारियों का उत्पीड़न कर रही है। निगम नियमावली के अनुसार ही कर्मचारी काम कर रहे हैं। निगम कर्मचारियों ने कोतवाली में धरना शुरू कर दिया। इंस्पेक्टर अमरजीत सिंह ने कहा कि पुलिस ने सारी कार्रवाई तथ्यों के आधार पर की है मामले में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ आगे की कार्रवाई जारी रहेगी।