Page Nav

HIDE

Gradient Skin

Gradient_Skin

Breaking News

latest

तहसील प्रशासन को भूमि नपाई के समय करना पड़ा विरोध का सामना

गदरपुर बाजपूर उपजिलाधिकारी एपी बाजपेयी के आदेश के बाद गदरपुर के रतनपुरा नंबर 1 में दो पक्षों में उपजे भूमि विवाद मामले में राजस्व कर्मियो...




गदरपुर बाजपूर उपजिलाधिकारी एपी बाजपेयी के आदेश के बाद गदरपुर के रतनपुरा नंबर 1 में दो पक्षों में उपजे भूमि विवाद मामले में राजस्व कर्मियों एवं पुलिस प्रशासन द्वारा संयुक्त रूप से कार्रवाई करते हुए विवादित भूमि में नापाई करने के पश्चात तारबाड़  करने के दौरान दोनों पक्षों के भारी विरोध का सामना करना पड़ा साथ ही दोनों पक्षों में काफी देर तक तीखी नोकझोंक से विवादित भूमि के चारों और बड़ी संख्या में तमाशा भिन्नों का जमावड़ा लगा रहा तो वही दोनों पक्ष में भारी विरोध के बीच हुई भूमि नपाई में राजस्व कर्मियों एवं पुलिसकर्मियों द्वारा संयुक्त रूप से तार बार खिंचकर चुने के माध्यम से निशानदेही की गई इस मौके पर तहसील प्रशासन एवं पुलिस कर्मी मौजूद रहे 



इस दौरान बुजुर्ग दुर्गा प्रसाद ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन एक पक्ष को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य यह तार बार लगा रहा है जबकि मामला कोर्ट में विचाराधीन होने के साथ-साथ भूमि हरिजन आबादी में दर्ज हैं और उस समय की मौजूदा सरकार द्वारा उनको इंदिरा आवास योजना का लाभ देते हुए आवाज से ग्रहों का शिलान्यास नैनीताल पूर्व सांसद सत्येंद्र चंद्र गुड़िया ने किया था और उन्होंने कहा कि प्रशासन किस खसरा नंबर 195 का हवाला देकर यह तारबाड़ लगाने का प्रयास कर रहा है बे खसरा नंबर 195 है ही नहीं उसके स्थान पर खसरा नंबर 196 197 जो कि हरिजन आबादी के रूप में दर्ज है जिस पर पिछले 50 वर्षों से काबिज है जबकि विपक्षी हरलोक सिंह पुत्र स्वर्गीय गुरुचरण द्वारा समय-समय पर आपत्ति लगाकर हमें और हमारे परिवार को प्रताड़ित किया जा रहा है

तो वही राजस्व निरीक्षक प्रेम सिंह चौहान ने कहा कि राजपुरा गांव के 195 खचरा नंबर 1600 वर्ग मीटर है जो कि लोग सिंह के नाम हैं और पक्की जमीन है भूमिधारी में नाम है और 195 भाई के संबंध में कहीं कोई विवाद नहीं है और 196 पर जो भूमि आबादी और हरिजन आबादी है और उसके संबंध में न्यायालय में मामला चल रहा है और कहा कि जिलाधिकारी द्वारा खचरा नंबर 195 पर श्री हरलोक सिंह को कब्जा दिलाने के आदेश दिए गए हैं और उसी परिपेक्ष में उनको यहां कब्जा दिलाया जा रहा है जिसका लोग बिना बजाएं विरोध कर रहे हैं और विरोध कर रहे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी