आकाश इंस्टीट्यूट ने 10 वीं से 12 वीं कक्षा के छात्रों के लिए एनईएसटी छात्रवृत्ति परीक्षा के दूसरे संस्करण की घोषणा की

आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड (एईएसएल) ने 10 वीं और 12 वीं के छात्रों के लिए वार्शिक छात्रवृति परीक्षा - राश्ट्रीय पात्रता एवं छात्रवृति परीक्षा (एनईएसटी) के दूसरे संस्करण की घोशणा की है। आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड डाॅक्टर और आईआईटीयन बनने को इच्छुक छात्रों के लिए प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी कराने वाला देश का प्रमुख संस्थान है जिसके देषभर में 200 केन्द्र हैं।  


 


आकाश एनईएसटी उन छात्रों के लिए है जो 10 वीं कक्षा से 11 वीं कक्षा में जा रहे हैं, 11 वीं कक्षा से 12 वीं कक्षा में जा रहे हैं और 12 वीं की परीक्षा में शामिल हो चुके हैं या 12 वीं की परीक्षा उत्र्तीण करके अगली कक्षा में पढ़ाई कर रहे हैं। यह परीक्षा पांच अप्रैल, 2020 को देश भर में 24 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में होगी। 


एनईएसटी छात्रों को राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने और ट्यूशन शुल्क में से 90 प्रतिशत तक की छात्रवृत्ति जीतने का अवसर प्रदान करता है। कक्षा दसवीं से बारहवीं तक (अध्ययन कर रहे और उत्तीर्ण हो चुके) छात्र परीक्षा में भाग ले सकते हैं। आकाश एनईएसटी के जरिए आकाश का उद्देश्य छात्रों को वित्तीय बाधाओं के बिना एईएसएल की कोचिंग का उपयोग करने के लिए सशक्त और सक्षम बनाना है।


 


आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड के निदेशक और सीईओ श्री आकाश चैधरी ने कहा, “सफल होने के लिए, अपने लक्ष्य की दिशा में एक कदम उठाना महत्वपूर्ण है। हम आकाश एनईएसटी के दूसरे संस्करण को शुरू करके खुश हैं क्योंकि इसकी मदद से हम छात्रों को राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने और उन्हें 90 प्रतिषत तक की छात्रवृत्ति जीतने का अवसर प्रदान कर रहे हैं। हमें विश्वास है कि पिछले वर्ष की तरह, छात्र प्रतिष्ठित प्रतिभा खोज परीक्षा के लिए आवेदन करेंगे और इस महान अवसर का लाभ उठाते हुए अपने व्यक्तिगत लक्ष्यों को प्राप्त करेंगे।”


 


परीक्षा उत्तराखंड, असम, आंध्र प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गोवा, गुजरात, हरियाणा, जम्मू, झारखंड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल राज्यों के सभी मुख्य शहरों में होगी। ।


 


आकाश इंस्टीट्यूट का उद्देश्य छात्रों को मानकीकृत सामग्री और कोचिंग विधियों, एकीकृत शिक्षण पद्धति, योग्य संकाय, व्यापक अध्ययन सामग्री, विविध पाठ्यक्रमों और वितरण माध्यमों, आधुनिक बुनियादी ढांचे, और अनुशासित और केंद्रित शिक्षण वातावरण के जरिए अकादमिक सफलता प्राप्त करने की उनकी कोशिश में मदद करना है। इसके पास इसकी राष्ट्रीय अकादमिक टीम के नेतृत्व में पाठ्यक्रम और सामग्री विकास और संकाय प्रशिक्षण और निगरानी के लिए एक केंद्रीकृत इन-हाउस प्रक्रिया है। वर्श दर वर्शं, आकाश के छात्रों ने विभिन्न मेडिकल और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं में एनटीएसई, केवीपीवाई और ओलंपियाड जैसे प्रतियोगी और छात्रवृत्ति परीक्षाओं में चुने जाने की षानदार दक्षता का प्रदर्षन किया है।