छात्र छात्राओं को भेजा उनके प्रदेश


लम्बा सफर किन्तु चेहरे की  भाव बता रहे है महिला जवानों का दृढ़ निश्चय, ओर मानव सेवा का धेय्य ।
 कोविड-19 संकट में स्वयं से प्रथम राष्ट्र भावना और उत्तराखंड पुलिस के सेवा सुरक्षा  मित्रता के संदेशों को ऊर्जा देती  *महिला जवान रेखा नायक एवमं प्रीति मल*  SDRF के अनेक  रेस्कयू अभियानों  का हिस्सा रही हैं । जहां  *का0 रेखा नायक वर्ष 2011 में पुलिस  विभाग में चयनित होकर वर्ष 2015  में SDRF परिवार का हिस्सा बनी वहीं  का0 प्रीति मल  ने  वर्ष 2015* में प्रशिक्षण प्राप्त कर  में उत्तराखंड पुलिस में अपनी सेवाएं प्रारम्भ की एवमं सितम्बर वर्ष 2018  से SDRF उत्तराखंड पुलिस में सम्मलित  हुई है। आज दोनों ही महिला जवान  राज्य प्रवासियों को सुरक्षित गृह राज्य में पहुंचाने  में भी  अपना अहम किरदार निभा  रही है  


     फंसे हुए प्रवासियों को गृह   राज्य भेजने के  क्रम  में  आज  उत्तराखंड से  स्कूली छात्र छात्राओं को  सिलीगुड़ी  पश्चिम बंगाल भेजने  हेतु  बसे रवाना हुई है सिलीगुड़ी भेजे जाने वाले स्कूली बच्चों  में 20 छात्राओं के होने पर सुरक्षा  के दृष्टिगत  SDRF  की महिला  जवान भी अभियान का हिस्सा बनी हैं।