कोरोना वायरस पर आस्था भारी 
कोरोनावायरस पर आस्था भारी पड़ती नजर आई आपको बताते चलें आज सावन का पहला सोमवार है जिसके चलते मंदिरों में भोले शिव नाथ को जलाभिषेक करने के लिए श्रद्धालुओं का तांता जरूर देखने को मिला हालांकि प्रशासन की ओर से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सभी मंदिरों पर नोटिस भी लगाए गए हैं कि मंदिर के अंदर एक समय में सिर्फ 5 लोग ही प्रवेश कर सकते हैं लेकिन इसके बावजूद भी मंदिरों के बाहर भक्तों की भीड़ देखने को मिली माना जाता है कि शिव को सोमवार का दिन सबसे ज्यादा प्रिय होता है इसलिए इस दिन शिव की भक्ति और उनका जलाभिषेक करने के लिए भक्त भारी तादाद में मंदिर पहुंचते हैं और शिव भोले का जलाभिषेक करते हैं

राजधानी देहरादून की बात करें तो राजधानी देहरादून में भी मंदिरों में भक्तों का तांता जरूर दिखा जिससे कहा जा सकता है की कोरोनावायरस पर आस्था भारी पड़ती नजर आई मंदिरों की समितियों ने तमाम व्यवस्थाएं मंदिरों में की थी चाहे वह सेनिटाइजर की व्यवस्था हो या फिर जल चढ़ाने की व्यवस्था देखा गया है कि मंदिरों में समिति की ओर से सेनिटाइजर की मशीनें लगाई गई थी व सभी जल चढ़ाने वाले श्रद्धालुओं को सेनिटाइजर करने के बाद ही अंदर प्रवेश दिया जा रहा था / साथ ही किसी को भी बिना मास्क के अंदर प्रवेश करने की इजाजत नहीं दी जा रही थी