5 दिसम्बर को आंदोलनकारी घेरेंगे विधानसभा 
उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी मंच राज्य स्थापना के बाद से ही अपनी विभिन्न मांगों को लेकर लगातार आंदोलनरत है अब 4 तारीख को उत्तराखंड के होने वाले विधानसभा सत्र में सरकार को घेरने की तैयारी में आंदोलनकारी मंच जुट गया है इस पर रणनीति बनाने के लिए आज शहीद स्थल पर एक बैठक के दौरान चर्चा की गई इस मौके पर आंदोलनकारी नेता प्रदीप कुकरेती ने बताया कि 5 तारीख को सुबह शहीद स्थल से हजारों की संख्या में आंदोलनकारी विधानसभा का घेराव करेंगे उन्होंने बताया कि सरकार से हमारी 8 सूत्री मांगे 19 वर्षों से चल रही है जिसमें गैरसेन  स्थाई राजधानी 10 प्रतिशत  आंदोलनकारियों को क्षति आरक्षण नौकरियों में वहीं दूसरी ओर मुजफ्फरनगर गोली कांड के दोषियों को सजा के साथ-साथ अनेको मांगे हैं यदि सरकार ने उन पर अमल नहीं किया तो राज्य आंदोलनकारी सड़कों पर उतर कर आंदोलन करेंगे साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि सुबे के मुख्यमंत्री शहीदों को शहीद स्थल पर आकर श्रद्धांजलि तक नहीं दे पा रहे हैं इससे साफ लगता है कि शहीदों के प्रति उनकी क्या मंशा है