सी0ए0ए0 के समर्थन में निकाली गयी विशाल रैली, सुरक्षा व्यवस्था हेतु ड्रोन कैमरों से की गयी जुलूस की निगरानी

भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा हजारों की संख्या में परेड ग्राउण्ड देहरादून में एकत्रित होकर सी0ए0ए0 के समर्थन में एक विशाल जुलूस निकाला गया। जुलूस परेड ग्राउण्ड से होते हुए एस्ले हाल, घण्टाघर, पल्टन बाजार, घोसीगली, दर्शनलाल चैक से होकर लैंसडाउन चैक में जाकर समाप्त हुआ। शहर में काफी समय के बाद इस प्रकार की विशाल रैली का आयोजन हुआ। जिसके लिये वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून के नेतृत्व में पुलिस ने पहले से ही अपनी फुलप्रूफ कार्ययोजना की तैयारी कर ली थी। इस रैली में भारी संख्या में लोगों के शामिल होने के सम्भावना के दृष्टिगत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा शनिवार को ही स्वयं रैली के मार्ग में पडने वाले एक-एक प्वाइंट का बहुत बारीकी से पर्यवेक्षण कर एक पुख्ता सूक्ष्म लेवल की यातायात प्लानिंग तैयार की गयी थी तथा सुरक्षा व्यवस्था को सुदृढ बनाने हेतु भारी-भरकम पुलिस बल को तैनात किया गया था। जिसके लिये पूरे जुलूस क्षेत्र को 06 जोन व 19 सैक्टरों में बांटकर प्रत्येक जोन में एक क्षेत्राधिकारी स्तर के अधिकारी को नियुक्त किया गया था। साथ ही प्रत्येक सैक्टर में लगाये गये पुलिस बल के कुशल नियंत्रण हेतु निरीक्षक/थानाध्यक्ष स्तर के अधिकारी की नियुक्ति की गयी थी। इस प्रकार सम्पूर्ण जुलूस क्षेत्र में शान्ति व्यवस्था एवं यातायात व्यवस्था को सुदृढ एवं सुचारू रूप से बनाये रखने हेतु पुलिस अधीक्षक नगर तथा पुलिस अधीक्षक यातायात के पर्यवेक्षण में 06 क्षेत्राधिकारी, 13 निरीक्षक, 52 उप निरीक्षक, 291 आरक्षी जिसमें 03 क्यू0आर0टी0टीम, 04 टीयर गैस स्क्वाड, घुडसवार पुलिस की टुकडी, फायर सर्विस का दल व 07 कम्पनी पी0ए0सी0 को नियुक्त किया गया था। जिस कारण जुलूस में लगभग 8000 से 9000 लोगों के शामिल होने के उपरान्त भी किसी भी प्रकार की शान्ति व्यवस्था अथवा यातायात व्यवस्था प्रभावित नहीं हुई । 
इतने बडे जनसैलाब के होने के बाद भी यातायात तथा सुरक्षा एवं शान्ति व्यवस्था की इतनी सुदृढ एवं सुव्यवस्थित तैयारियों की जनता द्वारा भी काफी प्रशंसा की गयी। जिस प्रकार इतने बडे आयोजन को सकुशल एवं सुव्यवस्थित तरीके से सम्पन्न कराया गया उससे यह देखने में आया कि पुलिस द्वारा जुलूस की सूक्ष्म से सूक्ष्म लेवल पर भी अपनी तैयारी की गयी थी। उपरोक्त के अतिरिक्त जूलूस को सकुशल सम्पन्न कराये जाने हेतु निम्नलिखित कार्यवाही को भी अमल में लाया गया। 
01: शहर में आउटर एरिया जोन भी बनाये गये तथा सम्बन्धित जोन के क्षेत्राधिकारी/थानाध्यक्षों को लगातार राउण्ड पर रखा गया। 
02: जहां से भीड जुलूस का आरम्भ होना था वहां पर भी चैक प्वाइंट बनाये गये थे। 
03: यातायात व्यवस्था के सुचारू रूप से संचालन हेतु बैरियर, पाम्पलेट तथा साइन बोर्ड लगाकर यातायात व्यवस्था का सकुशल संचालन किया गया । 
04: सम्पूर्ण जुलूस की निगरानी हेतु पल्टन बाजार में एक ड्रोन कैमरा स्टैटिक मोड में तथा एक ड्रोन कैमरा पूरे जूलूस के ऊपर लगातार मूवमेंट की दशा में रखा गया।