Page Nav

HIDE

Gradient Skin

Gradient_Skin

Breaking News

latest

उप जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा

  सितारगंज लंबे समय से सितारगंज महिला चिकित्सालय एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में महत्वपूर्ण डॉक्टर नहीं है जिसको लेकर वार्ड नंबर 5 के स...

 


सितारगंज लंबे समय से सितारगंज महिला चिकित्सालय एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में महत्वपूर्ण डॉक्टर नहीं है जिसको लेकर वार्ड नंबर 5 के सभासद रवि रस्तोगी ने एक दिवसीय धरना प्रदर्शन का आयोजन किया जिसमें नगर पालिका परिषद के समस्त सभासद गण एवं नगर पालिका अध्यक्ष हरीश दुबे सहित प्रदेश सचिव कांग्रेस नव तेजपाल सिंह महार एवं पूर्व जिला पंचायत सदस्य गुरसेवक महार ने आंदोलन को अपना समर्थन दिया इंटर कॉलेज प्रांगण में धरना देने के पश्चात सभी लोग उप जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे और नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री को उपजिलाधिकारी के माध्यम से ज्ञापन प्रेषित किया ज्ञापन में चेतावनी दी गई कि एक माह के अंदर डॉक्टरों की तैनाती नहीं हुई तो हम लोग मुख्यमंत्री कार्यालय के बाहर एक दिवसीय भूख हड़ताल करेंगे
सोमवार को महिला चिकित्सालय में 11 वर्षों से डाक्टर की तैनाती न होने को लेकर वक्ताओं ने अपने अपने विचार रखे सभासद रवि रस्तोगी ने कार्यक्रम का संचालन करते हुए कहा कि महिला सशक्तिकरण के तमाम दावों के बावजूद लाखों महिलाओं के लिए महिला चिकित्सालय में 11 वर्षों से अधिक का समय बीतने के बावजूद भी महिला डॉक्टर नहीं है इस कारण महिलाओं को इलाज के लिए 45 से 100 किलोमीटर बरेली वह हल्द्वानी दौड़ लगानी पड़ रही है महिला डॉक्टर नहीं होने से प्रसव पीड़ा को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है वही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लंबे समय से कई पद रिक्त चल रहे हैं ना तो वहां सर्जन है ना ही हड्डी रोग विशेषज्ञ और ना ही बाल रोग विशेषज्ञ सबसे अधिक परेशानी लोगों को बच्चों का डॉक्टर ना होने से है रात विरात बच्चों को लेकर परिजनों को बाहर जाना पड़ रहा है नगर पालिका अध्यक्ष हरीश दुबे ने कहा कि सिडकुल आदि बनने से ट्रैफिक में इजाफा हुआ है जिसकी वजह से दुर्घटनाएं भी अधिक घटने लगी है कई एक्सीडेंट जैसी घटनाओं में तुरंत इलाज ना मिलने का डॉक्टर ना मिलने पर कई लोग अपनी जान गवां चुके हैं प्रदेश कांग्रेस सचिव तेजपाल ने कहा कि सितारगंज विधानसभा के अलावा नानकमत्ता शक्ति फार्म एवं उत्तर प्रदेश के लोग भी सितारगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर निर्भर है लेकिन जब भी कभी उन्हें स्वास्थ्य परीक्षण के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र या महिला चिकित्सालय आना पड़ता है तो सिर्फ उन्हें पर्ची पर ही रेफर की मुहर लगी मिलती है कहां की इसके अलावा भी कई ऐसी मूलभूत समस्या हैं जिनका निराकरण होने की आवश्यकता है पूर्व जिला पंचायत सदस्य गुरसेवक महार ने कहा कि लंबे समय से सितारगंज वासी अस्पतालों में डॉक्टर तैनाती की मांग को लेकर मांग उठा रहे हैं लेकिन उनकी सुध लेने वाला कोई नहीं है इंटर कॉलेज मैदान में धरना देने के बाद सभी लोग उप जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे और वहां पर डॉक्टर की तैनाती करो आज दो अभी दो डॉक्टरों की तैनाती दो को लेकर नारेबाजी करते हुए उपजिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा जिसमें चेतावनी दी गई कि अगर एक महीने के भीतर दोनों अस्पतालों में डॉक्टरों की तैनाती नहीं हुई तो विधानसभा देहरादून का घेराव किया जाएगा एवं विधानसभा के बाहर भूख हड़ताल कर धरना प्रदर्शन किया जाएगा