व्यापारी कर रहे विरोध


नगर निगम ने राजधानी में चलने वाली सभी दुकानों पर टैक्स लगाने की बात कही है जिससे स्थानीय व्यापारियों में खासा आक्रोश है।  नगर निगम के द्वारा लगाए गए टैक्स के विरोध में आज व्यापारी नगर निगम पहुंचे और नगर आयुक्त से आपत्ति जताई। 

व्यापारियों का कहना है की व्यवसाय में पहले ही उनको हानि हो रही है ऐसे में अगर निगम भी शुल्क लेता है तो व्यापारियों पर अतिरिक्त बोझ पडेगा। 

वहीँ नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय का कहना है की टैक्स लगाने के पीछे की वजह यह है की नगर निगम में सभी दुकाने जो शहर में संचालित  हो रही हैं उनका लेखा जोखा रहे, देश में सभी नगर निगमों में इस तरह की व्यवस्था है की दुकानों पर टैक्स लगाया जाये इसलिए इसे यहाँ भी शुरू किया जा रहा है