गुल्लक दान करने वाला सात वर्षीय अथर्व बना कोरोना वारियर्स

कोरोना महामारी में  छोटे बच्चे भी सरकारी खाजाना में  योगदान को देने में पीछे नहीं है। इसी क्रम में आज देहरादून में सैनिक परिवार का सात वर्षीय अथर्व गुरंग
ने अपने गुल्लक के दस हजार दो सौ रुपए जिलाधिकारी  के माध्यम से मुख्यमंत्री राहत कोष में दान किया। इस मौके पर जिलाधिकारी ने उन्हें कोरोना वारियर्स घोषित किया।
शुक्रवार को    आईएमएम   में तैनात हवलदार का पुत्र अर्थव ने अपने माता पिता संग जिलाधिकारी कार्यालय पहुचा। जहा अपने गुलक की एकत्रित राशि 10200 सौ रुपये जिलाधिकारी को सौपा। अर्थव  ग्रेस अकेडमी में दूसरे कलास का छात्र है। इनके माता पिता का कहना है कि कोरोना में सहयोग का मन में संकल्प के साथ आईएएस बनने का सपना भी है। आईएएस कैसे होते है,देखने को लेकर मन मे उत्सुकता थी। इसी सोच के तहत गुलक को आज जिलाधिकारी के माध्यम से सरकारी कोष में मदत किया गया है।
इस मौके पर जिलाधिकारी ने अर्थव को बेहतर भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए
उन्हें मुख्यमंत्री राहत कोष में योगदान के लिए कोरोना वारियर्स घोषित किया।