इंद्रेश महंत हॉस्पिटल में होगा इलाज

कोरोना वायरस के चलते राजधानी दुन का एकमात्र दून मेडिकल कॉलेज को कोरोनावायरस का स्पेशलिस्ट हॉस्पिटल बना गया है जिसके चलते वहां पर अन्य बीमारी के लोगों को कोरोनेशन और जनशताब्दी हॉस्पिटल में शिफ्ट किया गया था जिसके चलते दोनों अस्पतालों में मरीजों का दबाव अधिक हो गया था दबाव बढ़ने के कारण जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि दोनों हॉस्पिटलों पर डिलीवरी का दबाव बढ़ने के कारण अब निर्णय लिया गया है कि देहरादून का इंद्रेश महंत हॉस्पिटल मैं भी सरकारी मदो की तरह ही यूज़ किया जाएगा जिस तरीके से आप सबको पता है कि आयुष्मान कार्ड सभी के बने हुए हैं उस कार्ड से भी इंद्रेश में इलाज हो सकता है