कोरन्टीन व्यवस्था खराब, सरकार खामोश

खबर राजधानी देहरादून से है जहां पर कल कोरेंटिन सेंटर में एक व्यक्ति ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है जिस पर आज कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने सरकार को घेरते हुए कहा की पौड़ी में एक आत्महत्या हुई थी अब राजधानी देहरादून के बाला वाले कोरन्टीन सेंटर में एक युवक ने आत्महत्या कर ली और एक बच्ची को  कोरन्टीन सेंटर में सांप ने काट लिया उससे पहले भोजन में लोगों को कीड़े खाने को मिल रहे थे राज्य भर के कोरन्टीन सेंटर के हालत खराब है मैं सरकार से पूछना चाहता हूं कि 638 करोड रुपए जो मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि स्वास्थ्य क्षेत्र में उन्होंने दिया है तो मुख्यमंत्री बताएं कि वह पैसा कहां गया पूरे देश में इस समय कोरोना से लड़ना प्रमुख है केंद्र सरकार भी खामोश है तो वहीं प्रदेश की सरकार भी खामोश है