सरकार वर्चुअल रैलियां छोड़ जनता की मदद करे


जनता की गाड़ी कमाई व पीएम केयर्स का पैसा एलईडी खरीदने की जगह हस्पतालों के लिए वेंटिलेटर खरीदे सरकार- धस्माना
देहरादून: उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने प्रदेश की त्रिवेंद्र सरकार पर प्रदेश की जनता की परेशानियों के प्रति लापरवाह होने का आरोप लगाते हुए सवाल किया कि जनता के वोटों से प्रचंड बहुमत के साथ चुनी हुई कोई सरकार जनता की दिक्कत परेशानियों के प्रति इतनी लापरवाह कैसे हो सकती है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण लगातार गति पूर्वक बढ़ रहा है संक्रमितों की संख्या एक महीने में पैसठ से बढ़ कर तेईस सौ पहुंच गई ही और सत्ताईस लोगों की जान अब तक कोरोना के कारण चली गयी है और सरकार व सरकारी पार्टी के लोग अपनी उपलब्धियों का ढिंढोरा पीटने के लिए प्रदेश में वर्चुअल रैलियां आयोजित करने की तैयारियां कर रहे हैं। आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस से वार्ता करते हुए श्री धस्माना ने कहा कि आज इस कोरोना काल में जब संक्रमण लगातार बढ़ रहा है और अभी चिकित्सा विज्ञान से जुड़े लोग कह रहे हैं कि कोरोना क्लाइमैक्स अगस्त से नवंबर के बीच आएगा यानी संक्रमण अभी और फैलेगा तो ऐसे में बजाय सरकार स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर करने की तैयारी करने में अपनी ऊर्जा व शक्ति लगाए मुख्यमंत्री व उनके सिपहसलार प्रदेश में वर्चुअल रैलियों की तैयारियां में समय जाया कर रहे हैं। श्री धस्माना ने कहा कि राज्य भर में हस्पतालों का हाल खराब है, कोविड19 हस्पतालों में डॉक्टर व नर्सिंग स्टाफ संक्रमित हो रहे हैं और उनमें डर और भय व्याप्त हो रहा है। श्री धस्माना ने कहा कि सरकार को आने वाले दिनों में कोरोना संक्रमण बढ़ने की स्थिति के लिए अभी से तैयारी युद्ध स्तर पर करनी चाहिए लेकिन ऐसा प्रतीत हो रहा है कि सरकार ने हाथ खड़े कर लोगों को खुद ही बीमारी से निपटने के लिए आत्मनिर्भर होने के लिए छोड़ दिया है। श्री धस्माना ने कहा कि सरकार को चाहिए था कि वर्चुअल रैलियों के लिए करोड़ों रुपये के जो एलईडी खरीदे जा रहे हैं उससे राज्य के हस्पतालों के लिए वेंटिलेटर खरीदे जाने चाहिए थे।