युथ कांग्रेस ने किया प्रदर्शन आखिर क्यों ?

संपूर्ण विश्व वैश्विक महामारी कोरोना से ग्रसित है, देश में बेरोजगारी दर अपनें चरम पर है, 2014 से पहले जब भाजपा सत्ता में नहीं थी। तो आपके द्वारा कहा गया कि अगर हम सत्ता में आयंेगे तो प्रत्येक वर्ष नौजवानों को 2 करोड़ रोजगार मुहैया करायेंगे। परंतु रोजगार तो दूर की बात है आप कि गलत नितियों के कारण देश में बढ़ी संख्या में पढ़े लिखे लोग बेरोजगार हो गये हैं। आपके द्वारा यह भी कहा गया था की पकोड़े तलना, चाय बेचना भी रोजगार है, जिससे की देश के कई युवा हताश एवं निराश हैं।
आपके द्वारा कोरोना महामारी के समय अनियोजित ढंग से किया गया लाॅकडाउन से देश में बढ़ी संख्या में युवा बेरोजगार हो गये, आपके द्वारा रोजगार तो दिया नहीं गया अपितु जो रोजगार लोगों के पास था वह भी लोंगों से छीन लिया गया जिससे देश में भंयकर भूखमरी एवं आमजन के जीवन यापन के लाले पड़ गये।
उत्तराखण्ड सरकार का तो इतना बुरा हाल है कि यहां बेरोजगारी दर अन्य राज्यों के मुकाबले बहुत अधिक है जिसके समाधान के लिये राज्य सरकार द्वारा कोई ठोस कदम नहीं उठाये जा रहे हैं जिस कारण प्रदेश में लाखों की संख्या में युवा बेरोजगार होते जा रहे हैं। अभी हाल ही में राज्य सरकार द्वारा पीआरडी विभाग से बड़ी संख्या में युवाओं को निकाला गया है, जो कि बहुत ही हास्यास्पद एवं निंदनिय है।
आमजन द्वारा आपके लोक लुभावनें भाषणों को सुनकर बड़ी संख्या ंमें उत्तराखण्ड वासियों नें यहां से सांसद को अपना अपार समर्थन देकर संसद में भेजा, परंतु टिहरी सांसद श्री माला राजलक्ष्मी शाह जी लापता चल रही हैं। पूरे कोरोना महामारी के समय सांसद महोदया का कहीं कोई अता पता नहीं था क्या इसी दिन के लिये उत्तराखण्ड वासियों नंे अपना अपार जनसमर्थन दिया था।
युवा कांग्रेस मांग करती है कि जल्द से जल्द बेरोजगारी पर ठोस कदम उठाते हुये लगाम लगायी जाये एवं लापता सांसद श्रीमती राज लक्ष्मी शाह जी को ढूंढा जाये तथा हमारी मांगो पर सकारात्मक कार्यवाही कि जाये।


इस मौके पर जिलाध्यक्ष युवा कांग्रेस भूपेंद्र नेगी जी प्रदेश महासचिव संदीप चमोली जी प्रदेश संयोजक राहुल प्रताप सिंह जी महानगर अध्यक्ष गौतम सोनकर जी प्रदेश महासचिव जितेंद्र नेगी जी प्रदेश प्रवक्ता आयुष सेमवाल जी प्रदेश प्रवक्ता संदीप कुमार जी जिला महासचिव आशीष सक्सेना जी जिला प्रवक्ता अमनदीप सिंह बत्रा जी जिला प्रवक्ता अविनाश त्रिपाठी जी आदि मौजूद रहे