राजधानी दून में डेंगू का कहर दंत चिकित्सक की हुई मौत

 


राजधानी दून में डेंगू का कहर रुकने का नाम नहीं ले रहा है यदि राजधानी दून की बात करें तो अभी तक जिले में डेंगू के मरीजों की संख्या 562 के लगभग पहुंच गई है जिले में 21 नए डेंगू के मरीजों की पुष्टि हुई है तो वहीं एक डॉक्टर जोगीवाला स्थित निजी अस्पताल में भर्ती थे अस्पताल की रिपोर्ट में डेंगू की पुष्टि हुई थी जिसके बाद सोमवार को अस्पताल में उनकी मौत हो गई अस्पताल की ओर से कराई गई जांच में उनमें डेंगू की पुष्टि हुई है सूचना पर आनन-फानन में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने एलाइजा जांच के लिए डॉक्टर का खून का सैंपल लेकर दून अस्पताल भेजा अब तक शहर में डेंगू से 5 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि इनमें से दून अस्पताल की जांच में एक महिला में ही डेंगू की पुष्टि हुई है इस पूरे प्रकरण पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी शोक व्यक्त किया है साथ ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर एसके गुप्ता ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम लगातार संवेदनशील क्षेत्रों में लोगों को डेंगू के रोकथाम और उपचार के बारे में जागरूक कर रही है साथ ही नगर निगम की ओर से सभी क्षेत्रों में फॉकिंग भी कराई जा रही है जिससे कि डेंगू का प्रकोप न बढ़े