गजराज हुए बेकाबू , किसान हुए परेशान 

लालकुआं के हल्दूचोड क्षेत्र में हाथियों ने उत्पात रुकने का नाम नहीं ले रहा है। इस पर आज सुबह 4 बजे हाथियों के झुंड ने हल्दूचौड के बच्चीनवाड़ गावँ  में जमकर उत्पात मचाया। हाथियों के झुंड ने कई किसानों की लहलहात गन्ने की फसल को पैरों तले रौंद डाली वही हाथियों ने बच्चीनवाड़ निवासी किसान बंशीधर शर्मा के अगन में पहुचकर उत्पात मचाते हुए उनकी कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दी। इधर पिडित ग्रामीणों ने जानमाल की सुरक्षा व नुक्सान का समुचित मुआवजा देने की मांग की जिला प्रशासन से की है। 


बताते चलें कि पिछले कुछ दिनों से हाथियों का आंतक रूकने का नाम नहीं ले रहा है। वही पिडित किसानों ने शासन प्रशासन तक से हाथियों को रोकने के लिए गुहार लगाई है लेकिन अभी तक हाथियों को रोकने के लिए कोई ठोस कदम उठाए हैं।इसी लेकर बीते दिन किसानों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए धरना प्रदर्शन भी किया। लेकिन समस्या आज भी जस की तस बनी हुई है। 


ग्रामीणों के अनुसार आज सुबह हाथियों का झुंड सबसे पहले बच्चीनवाड़ के विनोद दुम्का भुवन दुम्का के खेतों में पहुंचा और उनकी  फसल नुकसान पहुँचा कर उसके बाद चन्द्रशेखर शर्मा के खेत से होते हुए  बंशीधर शर्मा के आंगन जा पहुचे इतना ही नहीं हाथियों ने उनके घर के आगे रखी कार को क्षतिग्रस्त कर दिया और घर में रखे कई गमले तोड़ दिए।इस दौरान हाथियों को भागने के लिए किसानों को काफ़ी मास्कत करनी पड़ी। 



-इधर पिडित किसानों का कहना है कि हाथियों की वजह से खेती करना मुश्किल हो गया है। इसके अलावा अन्य जंगली जानवर भी मेहनत पर पानी फेर रहे हैं। किसानों ने वन विभाग से हाथियों की रिहायशी इलाकों में आवाजाही रोकने एंव रात के समय क्षेत्र में गश्त बढ़ाने की मांग की है। वहीं उन्होंने ने सरकार से उचित मुआवजा देने की भी मांग की है।