प्रियंका गांधी के साथ अभद्रता के खिलाफ फूटा कांग्रेस का गुस्सा

 उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी के साथ उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा की गई अभद्रता के खिलाफ आज उत्तराखंड के कांग्रेसियों का गुस्सा सातवें आसमान पर था, कांग्रेसियों ने राजधानी देहरादून में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में जबरदस्त प्रदर्शन कर पीएम मोदी व यूपी के मुख्यमंत्री योगी का पुतला दहन किया। लखनऊ में कल श्रीमती प्रियंका गांधी के साथ हुई अभद्रता के खिलाफ आज देहरादून में कांग्रेस मुख्यालय में बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता एकत्रित हुए जहां उन्हें संबोधित  करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री प्रीतम सिंह ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री व उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री देश में हिंसा फैलाना चाहते हैं इसलिए ये दोनों नेता अपने भाषणों और वक्तव्यों में जहर उगलने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि जब एक प्रधानमंत्री अपने भाषणों में यह कह सकते हैं कि दंगा और हिंसा करने वालों को उनकी वेष भूषा से पहचान सकते हैं व एक मुख्यमंत्री अपने भाषण में बदला लेने की बात कर सकता है तो इससे ज्यादा अराजकता फैलाने वाली क्या बात हो सकती है। श्री प्रीतम सिंह ने कहा कि देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी की नेता के ऊपर अगर मोदी योगी के इशारे पर पुलिस अभद्रता कर सकती है तो इससे अंदाज़ लगाया जा सकता है कि देश की राजनीति को बीजेपी किस ओर ले जाना चाहती है। प्रदेश कांग्रेस के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि कांग्रेस ने अंग्रेजों की तोपों संगीनों के सामने घुटने नहीं टेके तो मोदी योगी के दमन के आगे क्या झुकेंगे , उन्होंने कहा कि कांग्रेस मोक्सी योगी की विदाई भी गांधीवादी तरीके से संघर्ष के माध्यम से करेगी। 
संबोधन के बाद श्री प्रीतम सिंह के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ता मोदी योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कांग्रेस मुख्यालय से एश्ले हाल पहुंचे जहां जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए मोदी योगी के पुतले को आग के हवाले कर दिया गया। 
प्रदर्शन में सूर्यकांत धस्माना, मातबर सिंह कंडारी, विजय सारस्वत, राजकुमार,सरिता आर्य, लाल चंद शर्मा, राजीव महऋषि,महेश जोस्राही, जगदीश धीमान,संजय काला,जेश चमोली, अमित भंडारी,अर्जुन सोनकर,उर्मिला थाप,डॉक्टर बृजेन्द्र पाल,ताहिर अली, कमलेश रमन,प्रतिमा सिंह,अनिता दास,विमलेश,राकेश नेगी सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।