जनपद पुलिस को मिली 10 हाइटैक मोटर बाईकें , डी आई जी अरुण मोहन जोशी ने जताया आभार


 पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून के द्वारा अपने विशेष प्रयासों से सुजुकी कम्पनी से10 हाईटैक मोटर बाइके प्राप्त की गई, जिनसे जनपद पुलिस की कार्यक्षमता  में वृद्धि हो सके। उक्त बाइको को आज दिनांक: 28-01-2020 को पुलिस लाइन देहरादून में आयोजित एक कार्यक्रम में सुजुकी कंपनी द्वारा जनपद पुलिस के सुपुर्द किया गया।  इस अवसर पर पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा सुजुकी कम्पनी की ओर से कार्यक्रम में उपस्थित श्री जे0एस0 राठौर, सीनियर मैनेजर इन्स्टीट्यूशनल सेल एवं उनकी टीम का विशेष आभार प्रकट करते हुए कहा कि सुजुकी कम्पनी द्वारा दी गयी इन हाईटैक बाइकों के इस्तेमाल से पुलिस को अब अपराधियों का पीछा करने में आसानी होगी।  उनके द्वारा बताया गया कि उक्त बाइके जनपद पुलिस के पास उपलब्ध अब तक की सबसे अच्छी और हाइटैक बाइकें हैं। गौरतलब है कि जनपद पुलिस के पास चीता बाइकें तो थी लेकिन हाई पावर की बाइकें न होने के कारण मूवेबल श्रेणी के क्राइम में अपराधियों का पीछा करने में कठिनाइयां आती थी।  उक्त दिक्कतों पर फोकस करते हुए पुलिस उपमहानिरीक्षक/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा सुजुकी कम्पनी से समन्वय स्थापित किया गया । सुजुकी कम्पनी द्वारा अपनी सामाजिक जिम्मेदारी के अन्तर्गत 10  हाई टेक Gixxer 250 cc बाइकों को पुलिस को सुपुर्द किया गया। इस अवसर पर सुजुकी कम्पनी से श्री जे0एस0राठौर द्वारा उक्त बाइकों की चाबी श्री अरूण मोहन जोशी, पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून के सुपुर्द करते हुए बताया कि सुजुकी कम्पनी हमेशा जनता की सेवा में तत्पर रहती है, उक्त बाइको को पुलिस को देने का मुख्य उद्देश्य पुलिस की mobility में वृद्धि करते हुए आमजनमानस की सुरक्षा हेतु प्रभावी कदम उठाना है। उपलब्ध करायी गयी बाइकों का इंजन 250 सीसी का होने के साथ-साथ इन पर पुलिस हूटर, सायरन, पुलिस कलर के फ्लैशर, माइक एवं पब्लिक एड्रेस सिस्टम भी लगाये गये हैं। यह बाइकें सिटी के 09 थानों मे नियुक्त वरिष्ठ उप निरीक्षकों को इस निर्देश के साथ उपलब्ध करायी जा रही हैं कि वे इन बाइकों का इस्तेमाल अपनी देख-रेख और निगरानी में अपने क्षेत्र के अपराध नियंत्रण में करेंगे। साथ ही उक्त बाइको के साथ थाना क्षेत्र के ऐसे स्थानों पर भ्रमणशील रहेंगे, जहां से किसी अपराध को कारित कर अपराधियों के भागने की सम्भावना अधिक हो। 


उक्त कार्यक्रम के दौरान श्रीमती श्वेता चौबे (पुलिस अधीक्षक नगर), सुश्री बधाणें विशाखा अशोक ( ए0एस0पी0), श्री राकेश देवली (क्षेत्राधिकारी यातायात), श्री नरेन्द्र पंत ( क्षेत्राधिकारी मसूरी),   श्री जे0एस0 राठौर (सीनियर मैनेजर इन्स्टीट्यूशनल सेल), श्री रोहित मलिक (एरिया मैनेजर), श्री गुलशन भाटिया (डीलर साइप्रस सुजुकी), मोहब्बेवाला व अन्य अधिकारी/कर्मचारीगण उपस्थित रहे।