आयकर में छूट जनता के साथ धोखा-धस्माना

उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने आरोप लगाया है कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा बजट 20 21 में आयकर में आयकर दाताओं को जो छूट देने की बात कही है  वह वास्तविकता में करदाताओं पर दोहरी मार करेगा और निवेश को भी नकारात्मक रूप से प्रभावित करेगा। आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में श्री धस्माना ने कहा कि आयकर कर दाताओं को जो नया विकल्प दिया गया है उसके प्रावधानों के तहत वो सत्तर तरह के रियायतों  से वंचित होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि नए नियमों का सबसे बुरा असर बचत व निवेश पर पड़ेगा और इसका दुष्प्रभाव सीधा सीधा निवेश योजनाओं पर पड़ेगा। 
श्री धस्माना ने सरकार के एलआईसी व आईडीबीआई की हिस्सेदारी बेचने के फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि कांग्रेस ने जो 70 सालों में देश में खड़ा किया उसे मोदी सरकार नीलाम कर रही है। उन्होंने कहा कि एलआईसी व आईडीबीआई के बाद ओएनजीसी की बारी है और धीरे धीरे मोदी सरकार देश में सार्वजनिक क्षेत्र को ही खत्म करने की ओर बढ़ रही है। 
उत्तराखंड के लिए बजट को निराशाजनक बताते हुए श्री धस्माना ने कहा कि उत्तराखंड के पांचों सांसद संसद में मुंह सील कर बैठे हैं । उन्होंने कहा कि ग्रीन बोनस पर हमारे सांसदों को पीएम से बात कर उत्तराखंड के लिए विशेष पैकेज की मांग करनी चाहिए थी। श्री धस्माना ने पार्टी कार्यकताओं से आह्वाहन किया कि वे पूरे प्रदेश में केंद्र की मोदी सरकार द्वारा उत्तराखंड के साथ किये गए सौतेले व्यहवाहर के बारे में घर घर जा कर बताना चाहिए।