कांग्रेस नेता पार्टी में बंट रही जूतों में दाल के लिए अपने जूते सम्भाल कर रखे, सेना की चिंता केंद्र सरकार कर रही है : भाजपा

कांग्रेस नेताओं द्वारा अपनी ओर से सेना को जूते भेजने के बयान पर तंज कसते हुए भाजपा ने कहा है कि कांग्रेस नेता अपने जूतों को सम्हाल कर रखे क्योंकि उनकी पार्टी में बंट रही जूतों में दाल के लिए ये काफ़ी काम आएँगे। जहाँ तक सेना की आवश्यकताओं का सवाल है मोदी सरकार उसकी चिंता कर रही है ।


   आज प्रदेश कांग्रेस द्वारा केग रिपोर्ट की आड़ में केंद्र सरकार की आलोचना किए जाने व सैनिकों को अपनी ओर से एक सौ जूते भेजने के बयान पर भाजपा प्रदेश मीडिया प्रमुख डॉ देवेंद्र भसीन ने कहा कि जहाँ तक सैनिकों की ज़रूरतें पूरी करने का सवाल है तो मोदी सरकार इस मामले पर पूरी तरह गम्भीर है । दूसरी ओर कांग्रेस नेता द्वारा एक सौ जूते भेजने की बात कही गई है तो हमारा सुझाव है कि कांग्रेस नेता ये जूते अपने पास सम्हाल कर रखें क्योंकि उनकी पार्टी में जिस तरह जूतों में दाल बंट रही है ये जूते उसमें काफ़ी काम आएँगे।
   डॉ भसीन ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय स्तर से लेकर प्रांतीय व स्थानीय स्तर तक के नेता ग़ैर ज़िम्मेदार और फ्यूज़ ट्यूबलाइट नुमा बयान देने से बाज़ नहीं आते। सेना से सर्जिकल स्ट्राइक का प्रमाण माँगने वाले, सेनाध्यक्ष को गाली देने वाले , रक्षा सौदों में कमीशन खाने वाले, कमीशन के चक्कर में राफ़ेल का आना रोक कर सैन्य शक्ति को बढ़ने से रोकने वाले, वन रैंक वन पेंशन को चार दशक तक टालने वाले, उत्तराखंड आंदोलनकारियों जिनमें पूर्व सैनिक व महिलायें शामिल थीं पर गोलियाँ चलवाने वाले और साठ साल तक सत्ता में रह कर सैन्य हितों की उपेक्षा करने वाले कांग्रेस नेता जब मोदी सरकार की आलोचना करते हैं तो इससे उनकी निराशा व कुंठा ही सामने आती है।
पर जनता सब जानती है।