Page Nav

HIDE

Gradient Skin

Gradient_Skin

Breaking News

latest

पुलिस ने अवैध मिट्टी खनन में दो ट्रैक्टर ट्रालियां की सीज

-सितारगंज पुलिस ने दो ट्रेक्टर ट्रॉलियों को अवैध मिट्टी खनन में किया सीज। रिपोर्ट भेजी उपजिलाधिकारी सितारगंज को। सितारगंज क्षेत्र में मिट्ट...


-सितारगंज पुलिस ने दो ट्रेक्टर ट्रॉलियों को अवैध मिट्टी खनन में किया सीज। रिपोर्ट भेजी उपजिलाधिकारी सितारगंज को। सितारगंज क्षेत्र में मिट्टी खनन माफिया हुए बेलगाम। उपजाऊ भूमि से मिट्टी उठाकर बना रहे उपजाऊ भूमि को बंजर।डेढ़ फुट दो फुट की जगह 3-4 फुट मशीनों द्वारा उठायी जा रही खेतो से मिट्टी मानकों के अनुसार नही किया जा रहा मिट्टी खनन माफियो द्वारा कार्य।मिट्टी खनन माफियो द्वारा खुले आम ओवर लोड वाहन तेज गति से चलाने व बिना पानी व त्रिपाल डालें मिट्टी भरे वाहनों को चलाने से आने जाने वाले राहगीरों की आँखों मे पड़ रही है धूल।जिससे रोड़ो पर आने जाने वाले राहगीरों के साथ हो सकता है बड़ा हादसा।साथ ही कुछ रजिस्टर्ड वाहनों की परमिशन पर चलाये जा रहे बिना रजिस्ट्रेशन के भी वाहन।पुलिस व प्रशासन ने मूद रखी है आँखे।जिससे शहर की रोड़ो पर उड़ रही खुलेआम धूल।मिट्टी खनन माफियो द्वारा उड़ाई जा रही खुले आम मानकों की भी धज्जियाँ।


 


सितारगंज पुलिस ने मिटी खनन माफियो के खिलाफ कार्यवाही करते हुए पडरी क्षेत्र से रात के लगभग साढ़े सात बजे दो मिट्टी से भरी अवैध ट्रेक्टर ट्रॉलियों को पकड़ लिया और वैध कागज न दिखा पाने पर सीज कर दिया। इसमे पुलिस का कहना था कि पडरी गांव में लगभग साढ़े सात बजे के करीब दो  दो ट्रैक्टर ट्राली को देखा जब उनसे कागजात मांगे गए तो वह वैध कागजात नहीं दिखा पाए क्योंकि सूर्यास्त के बाद उनके पास कोई भी वैध दस्तावेज नहीं थे। उसके बाद दोनों ट्रैक्टर ट्रॉलियों को ओवरलोड व अवैध मिट्टी खनन करने को लेकर सीज कर गया है।क्योकि परमिशन की आड़ में कुछ बगेर परमिशन के वाहनों से भी अवैध मिट्टी खनन का कार्य किया जा रहा था।और माननीय उपजिलाधिकारी को रिपोर्ट भेज दी गयी है।


 


वही आपको बतादे कि मिट्टी खनन माफियो द्वारा सितारगंज क्षेत्र में अवैध मिट्टी खनन करते हुए आम देखा जा सकता है।क्योकि कुछ रजिस्ट्रेशन वाले वाहनों की परमिशन पर उनकी आड़ में बिना रजिस्ट्रेशन के वाहनों से ओवरलोड मिट्टी भरकर शहर की रोड़ो पर तेज गति से मानकों को ताक में रखकर चलाया जा रहा है।साथ ही उनकी उड़ती धूल से आम राहगीर भी परेशान रहते है।जिससे कई बार कई लोग हादसे का शिकार भी हो चुके है।लेकिन उसके बाद भी इन अवैध मिट्टी खनन माफियो पर जू तक नही रेंगती।