Page Nav

HIDE

Gradient Skin

Gradient_Skin

Breaking News

latest

अपहर्ता सकुशल हरिद्वार से बरामद अपहरण कर्ता गिरफ्तार

दिनांक 23/04/20 को थाना कालसी पर वादी द्वारा तहरीर दी कि आज हम लोग खेत में गेहूं काटने गये थे, वापस आने पर उनकी पुत्री, उम्र 21 वर्ष घर पर ...


दिनांक 23/04/20 को थाना कालसी पर वादी द्वारा तहरीर दी कि आज हम लोग खेत में गेहूं काटने गये थे, वापस आने पर उनकी पुत्री, उम्र 21 वर्ष घर पर नही मिली।  जिसकी तलाश करने पर गांव के व्यक्ति ने बताया की उनकी पुत्री किसी मोटरसाइकिल पर बैठ कर कालसी की ओर जाती देखी थी,  जिसकी काफी तलाश करने पर वादी को उनकी पुत्री नही मिली।  लिखित  तहरीर के आधार पर तत्काल थाना कालसी पर गुमशुदगी पंजीकृत की गयी तथा गुमशुदा की तलाश प्रारंभ की गयी,  प्रभावी सुरागरसी पतारसी व काल डिटेल के आधार पर गुमशुदा हरिद्वार जनपद में होने की जानकारी प्राप्त हुयी,  जिस संबंध में उच्चाधिकारिगणों को अवगत कराया गया तथा पुलिस उपमहानिरीक्षक/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून के आदेशानुसार पुलिस अधीक्षक ग्रामीण व क्षेत्राधिकारी विकासनगर के दिशा निर्देशन में टीम नियुक्त करते हुए उसे हरिद्वार रवाना किया गया।  दिनांक 24/04/20 को पुलिस टीम द्वारा कॉल डिटेल व मुखबिर की सूचना पर गुमशुदा को फेरूपूर तिराहे से सकुशल बरामद किया और उसके साथ मौजूद शाहरुख नाम के व्यक्ति को पूछताछ हेतु साथ में लाया गया।  पूछताछ में गुमशुदा द्वारा बताया गया की मैँ करीब 2 वर्ष से अपनी बुआ के घर फेरूपूर में रह कर  स्विच  बनाने की फैक्ट्री में काम करती थी, जहां पर मेरी मुलाकात सोनी नाम की महिला से हुयी थी, जिसके माध्यम से मैं शाहरुख नाम के उक्त लड़के से मिली,  जिसने शुरू में अपना नाम अरविंद बताया था,  ये मुझसे रोजाना फोन से काफी समय तक बात करता था और मिलता भी था। वह काफी समय तक मुझे शादी का झांसा देकर मेरा शारीरिक शोषण करता रहा, इसी दौरान मुझे पता चला की इस लड़के का नाम अरविंद नही शाहरुख है, जब इस संबंध में मेरे द्वारा उससे बात की गई तो उसके द्वारा मुझे इस बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी, जिससे मैँ काफी डर गयी और लॉक डाऊन से एक दिन पहले 21/03/20 को वापस अपने घर कालसी आ गयी। घर आने के कुछ दिन बाद शाहरुख द्वारा मुझे फोन कर अपने पास आने को कहा तथा न आने पर मुझे और मेरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी, जिससे मैं काफी डर गयी और शाहरुख कि बात मान ली।  दिनांक 23/04/20 को शाहरुख मुझे लेने मेरे गांव के पास आया व मोटरसाइकिल से मुझे हरिद्वार, फेरूपूर ले गया।  शाहरुख ने अपना नाम बदल कर शादी का झांसा देकर मेरे साथ शारीरिक शोषण किया तथा मेरे घर वालों को मारने कि धमकी देकर मुझे डरा धमकाकर अपने साथ ले गया था।  उक्त संबंध में गुमशुदा/अपहर्ता द्वारा शाहरुख के विरुध्द दी गयी लिखित तहरीर व पर्याप्त साक्ष्यों के आधार पर गुमशुदगी को अभियोग में तरमीम कर धारा 366/376/506 ipc की बढ़ौतरी करते हुए अभियुक्त शाहरुख को आज दिनांक 25/04/20 को थाने से ही गिरफ्तार किया गया,  जिसे बाद आवश्यक कार्यवाही माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।