सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए वेलमेड हॉस्पिटल ने मनाया इंटरनेशनल नर्सिंग डे

टर्नर रोड़ स्थित वेलमेड हॉस्पिटल ने मंगलवार को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए  अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाया। कार्यक्रम की शुरूवात मुख्य अतिथि कैंट बोर्ड के सीईओ आभिषेक राठौर ने की। 
अस्पताल ने सभी नर्से्स का स्वागत जोरदार तालियों से किया। इसके बाद नर्सिंग सुपरडेंट श्रीमती नीलम राहमी ने 'फ्लोरेंस नाइटिंगेल को याद कर सभी नर्सेस को ओथ दिलाई। बता दें कि  आधुनिक नर्सिंग की जननी 'फ्लोरेंस नाइटिंगेल' की याद में हर साल 12 मई को अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस मनाया जाता है। 
वेलमेड हॉस्पिटल ने कोरोना महामारी के चलते कार्यक्रम को बहुत ही सादगी से मनाया। इस मौके पर अस्पताल के चैयरमैन डॉ. चेतन शर्मा ने उन नर्सिंग स्टॉफ को सम्मानित किया, जिन्होंने कोरोना वॉरियर्स की भूमिका निभाते हुए हर वक्त मरीजों की सेवा में लगी रहीं। 
डॉ. चेतन शर्मा ने कहा कि नर्सिंग के बिना हर अस्पताल अधूरा है। किसी भी मरीज की जान बचाने में या सेहतमंद बनाने में नर्सिंग का भी पूरा योगदान होता है। वह हर वक्त मरीजों की सेवा में लगी रहती हैं।  उन्होंने कहा कि कोरोना में हर कोई डरा हुआ है। इस डर के बीच के अंदर नर्सिंग ने बहुत ही साहस का परिचय दिया। उन्होंने कहा कि आज मैं शुक्रिया करता हूं दुनिया की उन तमाम नर्सेस का जिन्होंने कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने में सबसे पहले कदम बढ़ाया।


मुख्य अतिथि  क्लमेंट टाउन कैंट बोर्ड के सीईओ आभिषेक राठौर ने कहा कि आज जब मंदिर मस्जिद, गुरुद्वारे  सभी बंद हैं, ऐसे में सिर्फ नर्स ही है, जो देवदूत बनकर मरीजों की सेवा में लगी हुई है। उन्होंने कहा कि जब लॉकडाउन लगा था, तब हमने वेलमेड के नर्सिंग स्टॉफ कई बार पैदल ही हॉस्पिटल जाते हुए देखा। वेलमेड हॉस्पिटल के इस जज्बे को मैं सलाम करता हूं। 


वेलमेड हॉस्पिटल के मैनजिंग डायरेक्टर श्री शाहीद अहमद  ने सभी नर्सिंग स्टॉफ का शुक्रिया अदाकर उन्हें सार्टिफेकेट बाटें। भाजपा नेता एवं क्लमेंटटाउन रेंजीडेंस वेलफेयर सोसायटी के उपाध्यक्ष महेश पांडे ने भी सभी नर्सिंग का शुक्रिया अदाकर उनके उज्जल भविष्य की कामना की। 


इस मौके पर सीओओ जावेद अजहर, डॉ. ईशान शर्मा, श्री सौरभ शर्मा, श्री विशाल सेठी, श्री अजय सिंह नेगी, श्री सुनील कुकरेती, श्री दुर्गेश, श्री महेश पांडे, एएनएस. गुरूप्रीत सिंह, नर्सिंग एजुकेटर लता गाड़िया, सोनम रावत, बबीता, शांति आदि मौजूद रहें।